महिला गेंदबाज का सामना करने के लिए सचिन ने साढ़े पांच साल बाद पकड़ा बल्ला, खुद किया खुलासा, देखें वीडियो

सिडनी : दुनिया के सर्वकालिक महान बल्लेबाजों में से एक सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) इस समय ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हैं। वह जंगलों में लगी आग से पीड़ितों के लिए आयोजित बुशफायर क्रिकेट बैश में पोटिंग एकादश के कोच थे। बुशफायर क्रिकेट बैश के मैच के लंच ब्रेक में सचिन महिला गेंदबाज एलिसा पैरी (Ellyse Perry) की ओर से दिए गए चैलेंज को पूरा करने के लिए मैदान में उतरे। इस दौरान उन्होंने पैरी के अलावा एनाबेल सदरलैंड (Annabel Sutherland) की गेंदबाजी का भी सामना किया।

एलिसा ने किया था सचिन को चैलेंज

शनिवार को ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेटर एलिसा पैरी ने सचिन तेंदुलकर को अपना एक ओवर खेलने के लिए चैलेंज किया था, जिसे सचिन ने स्वीकार कर लिया था। यह ओवर बुशफायर क्रिकेट बैश के पारी के बीच फेंका गया। एलिसा पैरी ने पोंटिंग एकादश के खेलने के बाद लंच में सचिन तेंदुलकर को गेंदबाजी की। बल्लेबाजी के बाद सचिन ने बताया कि उन्होंने साढ़े 5 साल के बाद बल्ला पकड़ा है। बता दें कि डॉक्टरों ने कंधे की चोट के कारण उन्हें मैदान पर उतरने से मना कर रखा है।

सीरीज हारने के बाद कोहली का चौंकाने वाला बयान, टीम के प्रदर्शन से हैं प्रभावित

लय में दिखे सचिन

एलिसा ने सचिन को चार गेंद फेंकी और बाकी की दो गेंद सदरलैंड ने डाली। इस दौरान सचिन लय में नजर आए। ऐसा नहीं लगा कि वह साढ़े पांच साल बाद बल्ला पकड़ रहे हैं। पैरी की पहली गेंद पर सचिन ने लेग ग्लांस कर चौका लगाया। दूसरी गेंद को उन्होंने स्क्वायर ऑफ द विकेट पर खेलकर दो रन लिए। तीसरी गेंद लेग साइड पर थी। इस पर तेंदुलकर कोई रन नहीं बना सके। चौथी गेंद पर सचिन ने स्क्वायर कट लगाकर चार रन बटोरे।

इसके बाद सचिन तेंदुलकर को दे गेंदें एनाबेल सदरलैंड ने फेंकी। पांचवीं गेंद पर सचिन तेंदुलकर ने 30 यार्ड सर्किल के ऊपर से कवर ड्राइव लगाई और आखिरी गेंद पर स्ट्रेट ड्राइव किया। यानी इस दौरान सचिन दो चौके जड़े। हालांकि इन दोनों की गेंदबाजी के दौरान मैदान पर पूरे 11 खिलाड़ी क्षेत्ररक्षण के लिए नहीं थे। इस कारण भी वह चौके गए।

रविंद्र जडेजा ने बनाया बड़ा रिकॉर्ड, महेंद्र सिंह धोनी और कपिल देव को पीछे छोड़ा

Check Out Here - Daily Update Latest Cricket News in Hindi

Post a Comment

0 Comments