एनटीए ने शैक्षणिक cycle व्यवधान से बचने के लिए किया ये उपाय

कोरोना के कारण देशभर में लॉकडाउन है। ऐसे में सभी कार्य बाधित हो रहे हैं। सबसे बड़ी चुनौती शिक्षा को लेकर आ रही है। अब संस्थाओं के सामने संकट खड़ा हो गया है कि वे अपने इस वर्ष के शैक्षिणिक कार्य को कैसे सुचारू कर पाएंगे। अधिकांश प्रमुख प्रवेश परीक्षाओं को स्थगित करने के साथ, समय पर परिणाम घोषित करना व छात्रों की मदद करने को लेकर कार्य किए जा रहे हैं।

जेईई मेन (अप्रैल) की ओर से की गई घोषणा के अनुसार, नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट-अंडरग्रेजुएट (NEET-UG) 2020 को भी पुनर्निर्धारित किया गया है। परीक्षा 3 मई, 2020 के लिए निर्धारित की गई थी और मई के अंतिम सप्ताह में आयोजित की जाएगी।

उन्होंने कहा, 'अप्रैल और मई की शुरुआत में होने वाली सभी परीक्षाओं में फेरबदल होने जा रहा है। एनटीए के महानिदेशक विनीत जोशी ने कहा कि एक एजेंसी के रूप में, हम अन्य संस्थानों की ओर से परीक्षा आयोजित करते हैं और हम संबंधित अधिकारियों के साथ सीधे संपर्क में रहते हैं, ताकि छात्रों के शैक्षणिक नुकसान को कम किया जा सके। जैसा कि लगभग सभी प्रवेश परीक्षाओं को पुनर्निर्धारित किया जा रहा है, इससे आगामी शैक्षणिक सत्र 2020-21 के दौरान प्रवेश प्रक्रिया में गड़बड़ी हो सकती है।

उन्होंने कहा कि “हम कोरोनोवायरस प्रकोप के प्रभाव और सीमा को नापने में असमर्थ हैं। हालांकि, शैक्षणिक चक्र के समग्र विघटन से बचने के लिए, एनटीए जल्द से जल्द परिणाम घोषित करने की कोशिश करेगा। यह हमें लॉकडाउन के दौरान समय की हानि के लिए बनाने में मदद कर सकता है।

इधर (CBSE) ने बोर्ड परीक्षा को भी रद्द कर दिया है। इसके अलावा, कई राज्य बोर्डों ने भी स्थिति सामान्य होने के बाद परीक्षा आयोजित करने की योजना बनाई है।

हालांकि एमएचआरडी ने सीबीएसई, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग (एनआईओएस) और एनटीए को एक नया अकादमिक कैलेंडर तैयार करने का निर्देश दिया था, लेकिन अब तक कोई तत्काल कदम नहीं उठाया गया है। CBSE के सचिव अनुराग त्रिपाठी कहते हैं कि नियामक संस्थाओं को लॉकडाउन खत्म होने के बाद सरकारी सलाह का इंतजार करना होगा।

“सीबीएसई स्कूल सभी कक्षाओं के लिए 1 अप्रैल को खुलने वाले थे, लेकिन अब वे 14 अप्रैल तक बंद रहेंगे। कुछ स्कूल पहले ही डिजिटल मोड पर काम करने के लिए पलायन कर चुके हैं।

👉Check Out Here - Latest Update Sarkari Job News in Hindi

Post a Comment

0 Comments