9 साल बाद सचिन का बड़ा खुलासा, उन्होंने ही दी थी धोनी को युवी से पहले आने की सलाह

नई दिल्ली। अभी 3 दिन पहले ही भारत ने 2011 वर्ल्ड कप की जीत की 9वीं सालगिरह मनाई थी। भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 2011 विश्व कप के फाइनल को भला कौन भूल सकता है। टीम के उस वक्त के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने किस तरह अपने बैटिंग ऑर्डर में बदलाव कर भारत को विश्व चैंपियन बनाया था, ये पूरी दुनिया ने देखा था, लेकिन क्या आप जानते हैं कि धोनी को अपने बल्लेबाजी क्रम में बदलाव करने की सलाह किसने दी थी?

सचिन ने दी थी धोनी को युवराज से पहले आने की सलाह

2011 विश्व कप के फाइनल में धोनी को ये सलाह मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने दी थी। जी हां, सचिन तेंदुलकर ने शनिवार को इस बात का खुलासा किया है कि उन्होंने ही धोनी को 5वें नंबर पर बल्लेबाजी करने की सलाह दी थी।

सचिन ने बताई वजह

मास्टर ब्लास्टर ने उस वजह का भी खुलासा किया है, जिसकी वजह से उन्होंने धोनी को युवराज से पहले बल्लेबाजी करने की सलाह दी थी। एक अंग्रेजी अखबार की खबर के मुताबिक, सचिन ने बताया कि विराट के आउट होने के बाद मैदान पर फिर से लेफ्ट-राईट कॉम्बिनेशन बना रहे, इसीलिए धोनी को पहले आने की सलाह दी थी। आपको बता दें कि सहवाग के आउट होने के बाद से ही मैदान पर लेफ्ट-राईट कॉम्बिनेशन नजर आया था। पहले सचिन-गंभीर, फिर गंभीर-विराट के बीच अच्छी साझेदारी हुई थी। इसीलिए सचिन ने विराट के आउट होने के बाद धोनी को बल्लेबाजी करने की सलाह दी थी।

तेंदुलकर ने सहवाग के हाथों भिजवाया था संदेश

सचिन आगे बताते हैं कि उस वक्त श्रीलंका की टीम दो शानदार स्पिनर के साथ खेल रही थी, इसलिए हमारा लेफ्ट-राईट कॉम्बिनेशन मैदान पर बना रहे, इसीलिए ये फैसला लिया गया था। सचिन बताते हैं कि धोनी को भेजने का फैसला इसलिए भी था, क्योंकि स्ट्राइक रोटेट करने में माहिर थे। सचिन ने सहवाग से कहा था, "तू ओवर के बीच में जाकर सिर्फ ये बात ( युवी से पहले बल्लेबाजी करने की बात ) बाहर जाकर एमएस को बोल देना और नेक्स ओवर शुरू होने से पहले वापस आ जाना। मैं यहां से नहीं हिलने वाला।"

विचार विमर्श के बाद धोनी बल्लेबाजी के लिए हुए थे तैयार

सचिन बताते हैं कि जब इस योजना पर विचार किया गया तो धोनी ने कोच गैरी क‌र्स्टन को बताया और हम चारों ने इस पर चर्चा की और धोनी राजी हो गए। फिर जो हुआ वो पूरी दुनिया ने देखा। धोनी एक बहुत बड़े मैच विनर बनकर उभरे।

मैच विनर बनकर उभरे महेंद्र सिंह धोनी

आपको बता दें कि धोनी का युवराज से पहले उतरने का फैसला हमेशा विवादों में रहा है, क्योंकि उस वक्त युवराज सिंह जबरदस्त फॉर्म में थे और धोनी का फॉर्म उस मैच से पहले खराब ही था। इतना ही नहीं युवराज सिंह के पिता ने तो धोनी पर साजिश का आरोप तक लगाया हुआ है। धोनी ने इस मैच में 79 गेंद पर नाबाद 91 रन की पारी खेली थी और विजयी सिक्स लगाकर 28 साल बाद भारत को विश्व चैंपियन बनाया था।

Check Out Here - Daily Update Latest Cricket News in Hindi

Post a Comment

0 Comments